संख्या-ए-588/तीन-05-7(61)/2005

प्रेषक,

                      कुॅंवर फतेह बहादुर,

                      सचिव,

                      उत्तर प्रदेश शासन ।

 

सेवा में,

             (1)             समस्त मण्डलायुक्त      

                  उत्तर प्रदेश।

              (2)             समस्त जिलाधिकारी,

                          उत्तर प्रदेश।     

 

सामान्य प्रशासन अनुभाग                      लखनऊ : दिनांक : 08 फरवरी, 2006

 

विषय :            विदेशों को भेजे जाने वाले विवाह प्रमाण-पत्रों के सत्यापन के संबंध में।

 

महोदय,

 

              विदेशी नागरिकों द्वारा भारत के नागरिकों से विवाह किये जाने वाले प्रकरणों में  विवाह प्रमाण-पत्र शासन के सत्यापनार्थ प्रेषित किये जाते हैं। इन प्रकरणों में सत्यापन की प्रक्रिया हेतु न्याय विभाग का परामर्श प्राप्त किया गया, न्याय विभाग द्वारा दिये गये परामर्शानुसार इन प्रकरणों में विधिक रूप से निम्न औपचारिकताओं की पूर्ति आवश्यक है :-

 

1.         विवाह विशेष विवाह अधिनियम, 1954 के तहत ही सम्पादित किया जा सकता है और उक्त विशेष विवाह अधिनियम की धारा 4 में उन शर्तो का उल्लेख किया गया है,जो विशेष विवाह सम्पन्न कराने के लिए आवश्यक है जिसमें यह स्पष्ट किया गया है कि दोनों ही पक्ष कोई जीवित पति अथवा पत्नी न रखता हो तथा वे पागल न हो तथा पुरूष की आयु 21 वर्ष एवं महिला की आयु 18 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए तथा दोनों ही पक्ष प्रतिबन्धित श्रेणी के संबंधों में न आते हों।

 

2.                 यह विशेष विवाह अधिकारी के ऊपर निर्भर करेगा कि वह इन शर्तो की सन्तुष्टि के लिए पक्षकारों से कौन से अभिलेख मॉंग करता है, विशेष कर दोनों पक्षों के अविवाहित होने के प्रमाण पत्र। दोनों प्रतिबन्धित श्रेणी के संबंधों में नहीं होने चाहिए। उक्त से संबंधित प्रमाण विदेशी व्यक्ति के दूतावास से प्रमाणित होना आवश्यक है, साथ ही उक्त विदेशी व्यक्ति को जारी किये गये पास पोर्ट एवं बीजा की शर्तो के अन्तर्गत ही अनापत्ति प्रमाण पत्र संबंधित देश से उसके दूतावास के माध्यम से ही उपलब्ध कराना आवश्यक होगा।  

 

  3.       इन प्रमाण पत्रों के अतिरिक्त उक्त विशेष विवाह अधिकारी जिसके द्वारा विशेष विवाह अधिनियम के अन्तर्गत विशेष विवाह सम्पादित कराया जा रहा हो, उसका सन्तुष्ट होना भी आवश्यक है।

 

 

2-                 उपर्युक्त विवाह प्रमाण-पत्रों को सत्यापन हेतु शासन को अग्रसारित करते समय उपर्युक्त औपचारिकतायें पूर्ण की जा रही होंगी। आपसे अनुरोध है कि विवाह प्रमाण-पत्रों को सत्यापन हेतु शासन को अग्रसारित करते समय उपर्युक्त औपचारिकताओं को पूर्ण कराने का कष्ट करें।   

                                                           भवदीय,

 

                                                       

                                               कुॅंवर फतेह बहादुर

                                                    सचिव।